मेश टोपोलॉजी क्या है? What is Mesh Topology in Hindi | Mesh Topology kya hai Hindi

आइये जानते है कि मेश टोपोलॉजी क्या है? और What is Mesh Topology in Hindi  और Mesh Topology kya hai Hindi. 

मेश टोपोलॉजी एक नेटवर्क टोपोलॉजी या डिज़ाइन होता है जिसमें प्रत्येक कंप्यूटर अन्य सभी कंप्यूटरों से सीधे जुड़ा होता है। इसलिए, इसे “Full Mesh Topology” भी कहते हैं। यह नेटवर्क टोपोलॉजी का सबसे अधिक सुरक्षित और लोकपिर्य डिज़ाइन है।

जब आप एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटरों को जोड़ते हैं जैसे हर एक कंप्यूटर एक-दूसरे से ऐसे जुड़े होते है जैसे कि एक जाल होता है, तो आप एक ऐसा नेटवर्क का ग्रुप बना देते है जिसमें कम्युनिकेशन करने के किये बहुत सारे path या रास्ते बन जाते है। हर कंप्यूटर आपस में एक दूसरे से जुड़े होते है इसलिए, मेश टोपोलॉजी में नेटवर्क का प्रत्येक कंप्यूटर के पास डेटा भेजने या प्राप्त करने के लिए बहुत सारे path होते है।

इस टोपोलॉजी का उपयोग वहाँ किया जाता है जहाँ नेटवर्क की सुरक्षा बहुत जरूरी होती है, जैसे विश्वविद्यालय या सरकारी संस्थाएं। यह टोपोलॉजी नेटवर्क के फेल होने की संभावना को कम करती है क्योंकि अगर कोई नोड फेल होता है तो भी दुसरे नोड अलग path या रास्ते के साथ काम करते रहते है और नेटवर्क भी काम करता रहता है।

What is Mesh Topology in Hindi | Mesh Topology kya hai Hindi

मेश टोपोलॉजी एक नेटवर्क टोपोलॉजी है जिसमें हर कंप्यूटर को अन्य कंप्यूटरों से सीधे जोड़ा जाता है। इस तरह की टोपोलॉजी में, सभी कंप्यूटरों के बीच सीधा कनेक्शन होता है, जिससे डेटा ट्रांस्फर अधिक तेज होता है और नेटवर्क के द्वारा संचार बेहतर होता है।

मेश टोपोलॉजी में किसी एक कंप्यूटर के खराब हो जाने पर भी, नेटवर्क के अन्य कंप्यूटरों का काम बिना किसी समस्या के चलता रहता है, क्योंकि उनके पास अन्य कंप्यूटरों से सीधा कनेक्शन के लिए अलग-अलग रास्ते होते है। इसके अलावा, मेश टोपोलॉजी में स्विच और राउटर का भी उपयोग किया जाता है, जो नेटवर्क में कम्युनिकेशन को और बेहतर बनाता है।

चलिए मेश टोपोलॉजी को एक उदाहरण के माध्यम से समझते हैं। 

सोचें कि आपके पास एक कम्प्यूटर नेटवर्क है, जो एक मेश टोपोलॉजी नेटवर्क है। इस नेटवर्क में 4 कंप्यूटर हैं, जो कुछ इस प्रकार जुड़े हुए हैं:

  • कंप्यूटर 1 सीधे कंप्यूटर 2, 3 और 4 से जुड़ा हुआ है।
  • कंप्यूटर 2 सीधे कंप्यूटर 1, 3 और 4 से जुड़ा हुआ है।
  • कंप्यूटर 3 सीधे कंप्यूटर 1, 2 और 4 से जुड़ा हुआ है।
  • कंप्यूटर 4 सीधे कंप्यूटर 1, 2 और 3 से जुड़ा हुआ है।

जैसा कि आप देख सकते है सभी चारों कंप्यूटर आपस में एक दूसरे से जुड़े है अब अगर कोई एक कंप्यूटर फेल भी हो जाता है तो नेटवर्क फेल नहीं होगा क्युकि बाकी कंप्यूटर के पास एक दूसरे  जुड़ने के लिए अनेकों रास्ते है। 

मेश टोपोलॉजी के प्रकार

मेश टोपोलॉजी के दो प्रकार होते हैं: पूर्ण-मेश टोपोलॉजी और आंशिक मेश टोपोलॉजी।

1- Full Mesh Topology (पूर्ण-मेश टोपोलॉजी): इसमें, हर नोड या डिवाइस को हर दूसरे नोड से सीधे जोड़ा जाता है। इस प्रकार की टोपोलॉजी में, हर नोड को लगभग सभी अन्य नोडों से सीधे कनेक्ट कर दिया जाता है, जिससे डेटा के संचार में कोई बाधा नहीं होती है। इस प्रकार की टोपोलॉजी नेटवर्क सुरक्षा के लिए बेहतर होती है। 

What is Mesh Topology in Hindi  Mesh Topology kya hai Hindi
Full Mesh

2- Partial Mesh Topology (आंशिक मेश टोपोलॉजी): इसमें, हर नोड को कम से कम दो या तीन अन्य नोडों से सीधे जोड़ा जाता है ध्यान दें इसमें सभी नोडों से नहीं जोड़ा जाता । इस प्रकार की टोपोलॉजी में, नेटवर्क की लागत और संसाधनों की उपयोगिता को कम किया जाता है और इसके साथ ही नेटवर्क सुरक्षा भी सुनिश्चित की जाती है। 

What is Mesh Topology in Hindi  Mesh Topology kya hai Hindi
Partial Mesh

मेश टोपोलॉजी के फायदे और नुकसान

मेश टोपोलॉजी के फायदे कुछ निम्नलिखित हैं:

  1. विश्वसनीयता: मेश टोपोलॉजी में, हर नोड कुछ अन्य नोडों से सीधे जुड़ा होता है, जिससे नेटवर्क की सुरक्षा बहुत अधिक होती है।
  2. स्केलेबिलिटी: मेश टोपोलॉजी में, नए नोड जोड़ने में कोई समस्या नहीं होती है।
  3. बहुत सारे path : मेश टोपोलॉजी में, नोडों के बीच बहुत सारे path  होते हैं, जिससे कम्युनिकेशन करने के लिए बहुत सारे मार्ग उपलब्ध रहते है। 
  4. उच्च लागत: मेश टोपोलॉजी में, बहुत सारे केबल और स्विच की आवश्यकता होती है। जिससे कम्युनिकेशन आसान होता है।
  5. संचार की गति: मेश टोपोलॉजी में, संचार की गति अधिक होती है, क्योंकि नोडों के बीच बहुत सारे मार्ग होते हैं।

मेश टोपोलॉजी के हानि:

  1. इस टोपोलॉजी के सेटअप करने में बहुत अधिक समय और लागत लगती है।
  2. संचार की गति धीमी हो सकती है जिससे नेटवर्क की प्रदर्शन में समस्या हो सकती है।
  3. path  जटिल भी हो सकता है जिससे नेटवर्क की परफॉरमेंस में समस्या हो सकती है।
  4. यह टोपोलॉजी छोटे नेटवर्कों के लिए उपयोगी नहीं होती है।

और इन टोपोलॉजी के बारे में भी जानें।

1- Star Topology
2- Ring Topology
3- Bus Topology
4- Network Topology and types

Q&A:

मेष टोपोलॉजी काम कैसे करता है?

मेश टोपोलॉजी में, सभी कम्यूटर एक दूसरे से सीधे जुड़े होते हैं। हर कम्यूटर का कम से कम दो कम्यूटरों से सीधे जुड़ा होता है। जब एक कम्यूटर डेटा भेजता है, तो यह डेटा सीधे दूसरे कम्यूटर तक पहुंचता है, जो कि इसे अपने दोनों path या रास्ते द्वारा प्राप्त कर सकते है। 

इस टोपोलॉजी में, नेटवर्क में सभी नोड्स के बीच एक बहुत  सारे रास्ते स्थापित होते है, जिससे नेटवर्क की सुरक्षा बढ़ती है और नेटवर्क फेल होने की सुरक्षा भी हो जाती है। इस टोपोलॉजी में जब कोई नोड खराब होता है, तो दूसरे नोड्स से संचार जारी रहता है और नेटवर्क काम करता रहता है।

इस टोपोलॉजी में, नेटवर्क को बढ़ाने और स्केल करने में भी आसानी होती है। इस टोपोलॉजी को Intranet , बड़े-बड़े कैंपस नेटवर्क और ऑफिस नेटवर्क जैसे बड़े नेटवर्कों में उपयोग किया जाता है।

मेश टोपोलॉजी कैसे बनाई जाती है?

मेश टोपोलॉजी कैसे बनाई जाती है, इसके लिए कुछ स्टेप्स होते हैं जैसे:

  1. सभी कंप्यूटरों को अलग-अलग hostname दें और एक नेटवर्क प्रोटोकॉल जैसे TCP/IP और IP Address का उपयोग करके उन्हें कनेक्ट करें।
  2. अपने नेटवर्क में सभी कंप्यूटरों को switch से और switch को Router से कनेक्ट करें। ये डिवाइस एक्सेस प्वाइंट की तरह से काम करता है जो एक नेटवर्क को अन्य नेटवर्क के साथ कनेक्ट करता है।
  3. अपने नेटवर्क में सभी कंप्यूटरों के बीच कनेक्शन बनाएं जिससे वे एक दूसरे से सीधे जुड़ सकें। इसे स्विचिंग कहा जाता है और इसमें स्विच का उपयोग किया जाता है जो नेटवर्क में डेटा को ट्रांसफर करता है। स्विच को एक ब्रिज के रूप में भी जाना जाता है।
  4. ऐसा भी हो सकता है कि सभी कंप्यूटरों को एक रेडियो या wifi नेटवर्क में जोड़ा जाए जिससे वे एक दूसरे से सीधे जुड़ सकें। इस तरह के नेटवर्क में, कंप्यूटरों को सीधे जोड़ा जाता है और इस प्रकार सभी कंप्यूटर सीधे एक दूसरे से जुड़ते हैं।

आशा करते हैं की आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी। आप हमें अपने सुझाव और शिकायत के लिये नीचे कमैंट्स बॉक्स मैं जानकारी दें सकते हैं।

Website | + posts

Hello Friends, My name is Pankaj I have almost 6 years of experience in the IT industry and 3+ years of experience in the software service industry. I thought to create a blog to provide information about the latest technology to everyone from my experience. I have made the MygoodLuck site for people to learn about technology in Hindi.

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x